लड़कों की तरह लड़कियां भी आपस में शरारत भारी बातें करती हैं?

अगर आप जानना चाहते है की लड़कों की तरह लड़कियां भी आपस में शरारत भारी बातें करती हैं? तो आज मै आपको मेरी खुद की कहानी देने वाला हूँ|

जिन लड़कियों को हम शरीफ समझते है, वह लड़को से भी अधिक शरारती होती है| इस बात को आप कभी भी आजमा लेना, लड़किया लड़को से अधिक शरारत करती मिल जाएगी|

सभी लड़किया तो नहीं होती लेकिन जिसका फॅमिली बैकग्राउंड लड़की को स्पोर्ट करता है, उसे प्यार करता है वह लड़की तो होती है|

कहने का मतलब है, की लड़की लड़की को किसी गलती पर बहुत ही कमा डाटा जाता है, और उसी के चलते वह लड़को से अधिक शरारत करती है|

मेरा खुद का एक्सपीरियंस रहा है उनके साथ बैठ कर बातें करने का, जब मै mdu में स्टडी करता था| 2015 की बातें आपके साथ शेयर करने जा रहा हूँ|

लड़कों की तरह लड़कियां भी आपस में शरारत भारी बातें करती हैं?

मेरी एक दोस्त होती थी अंजलि रोहतक से ही, एक दिन में उसके साथ उसकी सहेलियों में जाकर बैठ गया था|

उनका कुछ आपसी स्टडी ममला था, तो ऐसे ही बातों बातो में एक दूसरे पर गुस्सा हो जाती है| मै वही देख रहा था| मेरी दोस्त बोली तुम जाओ मैं आती हु थोड़ी देर में|

मै वही रह गया, थोड़ी सी दूर चलने के बाद| और बैठ गया आराम से पार्क में| उनसे कुछ कदम की दुरी पर|

मेरे आते ही थोड़ी देर बाद वो आराम से बाटे कर हस रही थी| मै उन्ही की तरफ देख रहा था| उनमें से एक मेरी डर्फ देख कर बोली “क्या देख रह है, डार्लिंग आज अंजलि को तो हम पेल कर भेजे तेरे पास”

मै हस हसने लगा|

मेरी दोस्त उसे बोली तू मुझ से बात कर उसे क्यों परे सान कर रही है, तुम्हे क्या कह रहा है वो|

बोली वो कुछ कहेगा तभी उस से बात करुँगी| तू सारा दिन उसकी ….. गुशी रहती है, मै थोड़ा हस बोल लुंगी तो तेरा क्या जाता है| और वैसे भी वह मुझे देख कर कितना खुस हो रहा है| देख उसे|

अभी अंजलि को उसकी ये बातें गुसा दिला ही रही थी| की उसकी दूसरी सहेली भी कह देती है, यह तो मेरे वाले से भी कुछ ज्यादा ही होस्ट दीखता है, एक बार मेरा भी मन कर रहा है इसको किश करने का|

अंजलि कहती है तो जा लेले कुछ और भी दे गा तुझे वो वो भी ले लेना| पक्का हवश का पुजारी है ये|

उनकी ये बातें सुन कर मुझे बहुत मज़ा आ रहा था|

तभी अंजलि बोली आज इन्ही के साथ सोने वाला है क्या?

और मै वहाँ से उठ कर उनके पास जाकर बैठ जाता है, और अंजलि से कहता हूँ|

तू तो बिना किसी बात के गुसा हो रही है, इनसे झगड़ा है तेरा| मेने तो इन्हे कुछ कहा भी नहीं है| न इन से में एक बार भी बोला हूँ|

और में उसे एक किस कर देता हूँ| और उठ कर अपने एक दोस्त को कॉल करने लगता है और वहाँ से चला जाता है|

बाद में कुछ टाइम के बाद मुझे अंजलि का कॉल आता है, और मै उस से मिलता हूँ| वो बता रही थी की मेरे आने के बाद उसकी सहेलिया मेरे बारे में उसे बोल बोल कर चिड़ा रही थी|

मुझे हसी आ गई, और उसे गुसा वह मुझे गली देकर बोली|

अभी गली क्या थी वो में नहीं बताने वाला| किसी लड़की से गाली खाना अच्छा तभी लगता है जब वह तुम्हे बहुत पसंद करती हो|


एक बात तो साफ है दोस्त लड़की से अगर हम लड़ने लगे तो सायद ताकत से ही जित जाए लेकिन बोलने में लड़की से मुझे नहीं लगता हम जित पाएगे|

आपको क्या लगता है| क्या आप लड़की से बातों में जित सकते है कमेंट करके बताए|

हमारे अन्य आर्टिकल –

7 thoughts on “लड़कों की तरह लड़कियां भी आपस में शरारत भारी बातें करती हैं?”

  1. Wow that was unusual. I just wrote an really long comment but after I clicked submit my comment didn’t appear.
    Grrrr… well I’m not writing all that over again. Regardless, just wanted to say superb blog!

  2. I loved as much as you’ll receive carried out
    right here. The sketch is tasteful, your authored subject matter stylish.
    nonetheless, you command get bought an shakiness over that you wish be delivering the following.
    unwell unquestionably come more formerly again as exactly the same nearly a lot often inside case you
    shield this hike.

    Here is my web site … buy weed; heraldnet.com,

  3. Just want to say your article is as astonishing.
    The clarity in your publish is just nice and i could think
    you’re a professional on this subject. Well together with your
    permission allow me to grasp your RSS feed to keep updated with drawing close post.
    Thank you one million and please continue the gratifying work.

Comments are closed.

close

Ad Blocker Detected!

How to disable? Refresh

error: Content is protected !!