Mouse kya hota hai | माउस क्या है माउस के प्रकार

38
5/5 - (4 votes)

आज हम माउस क्या है और माउस के प्रकार के बारे में डिटेल से जानेंगे। अगर आप भी खोज रहे है Mouse kya hota hai तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़े।

माउस क्या है

माउस एक इनपुट डिवाइस है। डगलस सी इंजेल्वरर्ट ने 1977 में इसका आविष्कार किया था। इसमें लेफ्ट बटन, राइट बटन और बीच में एक स्क्रौल व्हील होता है। माउस के उपयोग करने से हमें की बोर्ड के किसी बटन को याद रखने की आवश्यकता नहीं होती है, बस माउस के प्वाइंटर (Pointer ) को स्क्रीन पर किसी नियत स्थान पर क्लिक करना होता है। इसे प्वाइंनटिंग डिवाइस भी कहते हैं।

माउस दो बटन, तीन बटन तथा ऑप्टिकल भी होते हैं। माउस के नीचे एक रबर बॉल होता है, जो माउस को सतह पर हिलाने में मदद करता है। बॉल के घुमाने से स्क्रीन पर माउस प्वाइंटर के दिशा में परिवर्तन होता है। माउस के नीचे रखे स्लेट के आकार की वस्तु को माउस पैड कहते हैं।

माउस के मुख्यतः चार कार्य हैं

अभी हम माउस के उपयोग के बारे में जानेगे। मुख्य रूप से माउस का उपयोग हम 4 कार्यो के लिए करते है।

क्लिक या लेफ्ट क्लिक (Click or left click) 

लेफ्ट माउस बटन को एक बार दबाकर छोड़ने पर यह एक आवाज ( Clicking Sound) देता है तथा स्क्रीन पर किसी एक object का चयन (Select) करता है। जैसे माई कम्प्यूटर (My Computer Icon) पर लेफ्ट बटन क्लिक करने से इसका रंग नीला हो जाता है मतलब इसका चयन (Selected) हो गया है। इस बटन का उपयोग सामान्यतया OK के लिए किया जाता है। डबल क्लिक (Double click) : लेफ्ट माउस बटन को जल्दी जल्दी दो बार दबा कर छोड़ने को डबल क्लिक कहते हैं। इसका उपयोग किसी फाइल, डाक्यूमेंट या प्रोग्राम को खोलने (Open) के लिए होता है।

राइट क्लिक (Right click) 

राइट माउस बटन को एक बार दबा कर छोड़ने पर यह स्क्रीन पर आदेशों ( Commands) की एक

(list) देता है । यह ऑब्जेक्ट की प्रोपर्टीज को एक्सेस करने में उपयुक्त होता है। 

ड्रैग और ड्रॉप (Drag and Drop) 

इसका उपयोग किसी चीज (Item) को स्क्रीन पर एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिए होता है। स्क्रीन के किसी एक Item के ऊपर प्वाइंटर को ले जाकर लेफ्ट माउस बटन को दबाये हुए स्क्रीन पर किसी दूसरी जगह ले जाकर छोड़ देते हैं। जिसके फलस्वरूप वह Item दूसरी जगह स्थानांतरित हो जाता है। इस क्रिया को ड्रैग और डॉप कहते हैं ।

माउस के प्रकार

माउस के मुख्य रूप से 2 प्रकार होते है :

  • वायर लेस्स माउस
  • और विथ वायर माउस

माउस का आविष्कार किसने किया था?

डगलस सी इंजेल्वरर्ट ने

माउस का आविष्कार कब किया था?

1977

माउस का फुल फॉर्म हिंदी में

मैन्युअल रूप से संचालित उपयोगकर्ता चयन उपकरण होता है।

माउस का फुल फॉर्म इंग्लिश में

Mouse (माउस) ka full form Manually operated user selection equipment होता है।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने माउस क्या है और इसके क्या उपयोग होते है उसके बारे में डिटेल से जाना है। हमने इसके बारे में अन्य आविष्कार कब और कइने किया उसके बारे में जाना। अगर आपने इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़ा है तो आपको माउस के बारे अच्छे से जानकारी मिली होगी।

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा है तो इसे जरूर से करें और अपने सवाल हमे पूछे कमेंट बॉक्स में। हमारे दूसरे आर्टिकल जरूर पढ़ें।

इन्हें भी पढ़े:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here